खबर अभी अभी

जेल में एक पुलिसकर्मी सहित 38 कैदियों ने लिया संत रामपाल जी महाराज से नाम उपदेश.

5 जुलाई 2017

जेल में एक पुलिसकर्मी सहित 38 कैदियों ने लिया संत रामपाल जी महाराज से नाम उपदेश.

ये शायद चमत्कार को नमस्कार करने वालों के लिए संत रामपाल जी महाराज का साधारण सा संकेत ही कहा जायेगा।

पढ़ कर हैरानी हो रही होगी ,और अविश्वास की स्थिति निर्मित हो रही होगी आपके दिमाग में।

पर ऐसा हुआ है सघन वनों के लिए विश्वविख्यात सतपुड़ा के समीप ,बैतूल में ।

बात हो रही है मध्य प्रदेश के जिला बैतूल की जहां पर कई वर्षों से अपने गुनाहों की सजा काट रहे कैदियों की जो जेल में भी अध्यात्म की सर्वोत्तम राह पर अपना पहला पड़ाव रख चुके हैं।
खबर कुछ इस प्रकार है कि बैतूल जिला जेल में पिछले हफ्ते हरियाणा की जेल में बंद निर्दोष संत, संत रामपाल जी महाराज का सत्संग LED के माध्यम से हुआ। उस सत्संग का ऐसा अभूतपूर्व असर इन कैदियों पर हुआ कि उन्होंने संत जी से नाम दीक्षा लेने के लिए अपने नाम दर्ज कराए जिसके लिए आज बैतूल में नाम दीक्षा दिलाने की व्यवस्था की गई, एक पुलिस वाले समेत 38 कैदियों ने संत रामपाल जी महाराज जी से नाम दीक्षा ग्रहण की। एवं जिंदगी भर संत रामपाल जी महाराज के बताए हुए शास्त्रों से प्रमाणित पंथ पर चलने का प्रण लिया एवं नाम दीक्षा लेने के बाद सभी कैदियों के चेहरे पर एक अध्यात्म के तेज की रोशनी देखते ही बन रही थी। क्योंकि इससे पहले वह कभी भी सच्चे अध्यात्म पर नहीं लगे थे और ना ही उन्हें ऐसा तत्व दर्शी संत मिला था ।

नाम दीक्षा लेते ही इन सभी कैदियों ने जय जयकार लगाई और हर्ष व्यक्त किया साथ ही यहीं पर जिला जेल जेलर एस.एन. शुक्ला जी ने घोषणा की कि इन कैदियों को भक्ति के लिए विशेष समय दिया जाएगा और इनकी भक्ति में बाधक बनने वाली परिस्थितियों को खत्म किया जाएगा । यहीं पर कुछ कैदी पेशी पर कोर्ट गए थे जिनके लिए कुछ दिनों बाद पुनः ,नाम उपदेश दिलाने की व्यवस्था की जाएगी। इसी अवसर पर मध्य प्रदेश स्टेट कोऑर्डिनेटर विष्णु दास जी ने सतलोक आश्रम बेतूल की तरफ से संत रामपाल जी महाराज का साधना TV ,ईश्वर TV,MH1श्रद्धा आदि चैनलों पर आने वाले सत्संग को सुनने के लिए एक DTH निशुल्क दी। इस बात को सुनकर कैदियों ने संत रामपाल जी महाराज सहित सभी शिष्यों की भूरि-भूरि प्रशंसा की और जय बंदी छोड़ की नारे लगाए जिससे जेल की प्राचीर भी गुंजायमान हो गए। इसी अवसर पर बैतूल जिला कोऑर्डिनेटर राजू दास ,प्रभु दास भरत दास , नवीन दास, रमेश दास, अशोक दास ,बंटी दास ,अंकित दास विक्की दास आदि भक्तों ने कैदियों की सेवा की।

सवांददाता पीयूष दास, मध्यप्रदेश टीम

Leave a comment

Your email address will not be published.


*


Powered By Indic IME